यूएन परियोजना सेवा कार्यालय के लिये नए कार्यवाहक प्रमुख की नियुक्ति

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने परियोजना सेवाओं के लिये यूएन कार्यालय (UNOPS) के अन्तरिम प्रमुख के तौर पर येन्स वैण्डेल की नियुक्ति की घोषणा की है. इससे पहले, उन्होंने रविवार को यूएन एजेंसी की कार्यकारी निदेशक ग्रेटे फ़ारेमो का त्यागपत्र स्वीकार कर लिया था. 

UNOPS कार्यालय पर, संयुक्त राष्ट्र के लिये परियोजना व अभियान संचालन का दायित्व है और यह दुनिया भर में अन्तरराष्ट्रीय वित्तीय संस्थाओं, देशों की सरकारों और दुनिया भर में साझीदार संगठनों के लिये परियोजनाओं को लागू करने के लिये समर्पित है.  

यूएन एजेंसी प्रमुख ने अपने त्यागपत्र में कहा था कि, “UNOPS का नेतृत्व करना मेरे लिये बेहद ख़ास रहा है मैं पिछले आठ वर्षों में UNOPS की उपलब्धियों और अभूतपूर्व प्रगति के लिये गर्वित होती रहूँगी.”

“मुझे उम्मीद है कि मेरे निर्णय से UNOPS के लिये दुनिया भर में नाज़ुक हालात में रह रहे लोगों के जीवन के उत्थान के लिये अपने महत्वपूर्ण कार्य पर ध्यान केंद्रित करना सम्भव होगा.”

कठिन समय

पिछले वर्ष दिसम्बर महीने में, ग्रेटे फ़ारेमो ने टिकाऊ बुनियादी ढाँचे व नवाचार पहल पर UNOPS के मुख्य कार्यकारी अधिकारी को सम्भावित ग़लत आचरण पर जाँच के मद्देनज़र, प्रशासनिक अवकाश पर भेज दिया था. 

उन्होंने यह क़दम आन्तरिक पर्यवेक्षण सेवा (Internal Oversight Services) द्वारा जाँच शुरू किये जाने के बाद उठाया था.

UNOPS ने अपने एक वक्तव्य में बदलाव के इस क्षण में यूएन महासचिव के कार्यालय के साथ नज़दीकी तौर पर काम करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की है.   

साथ ही कहा है कि कार्य की निरन्तरता बनाये रखने के लिये योजना को लागू करना शुरू कर दिया गया है, ताकि ग्रेटे फ़ारेमो के जाने के बाद परियोजना गतिविधियों पर किसी तरह का कोई असर ना हो.

यूएन एजेंसी इस जाँच के नतीजों की प्रतीक्षा कर रही है. 

कामकाज की निरन्तरता

UNOPS के शीर्ष पद के लिये चयन प्रक्रिया के दौरान, संगठन की बागडोर येन्स वैण्डेल सम्भालेंगे, जिन्होंने हाल ही में सुधारों पर यूएन के विशेष परामर्शदाता के रूप में कार्य किया है. 

इस नियुक्ति से पहले, उन्होंने कोविड-19 जवाबी कार्रवाई एवं पुनर्बहाली कोष के लिये भी अपनी सेवाएँ प्रदान की थीं. 

येन्स वैण्डेल के पास डेनमार्क की नागरिकता है और उनका अन्तरराष्ट्रीय संगठनों के साथ एक लम्बा अनुभव रहा है, और मुख्यत: उन्होंने प्रबन्धन, टिकाऊ विकास व आवश्यकता अनुरूप बदलाव प्रक्रियाओं पर ध्यान केंद्रित किया है.  

Share this story