इराक़: तनाव कम करने और मतभेदों से ऊपर उठने का आग्रह

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश इराक़ में जारी प्रदर्शनों पर “चिन्तित नज़र” रखे हुए हैं जिनमें अनेक लोग घायल हुए हैं. उनके उप प्रवक्ता फ़रहान हक़ ने शनिवार को ये जानकारी दी.

शनिवार रात को जारी किये गए एक वक्तव्य के अनुसार, यूएन प्रमुख ने तमाम सम्बद्ध पक्षों से तनाव कम करने, दीगर हिंसा को टालने, और शान्तिपूर्ण प्रदर्शनकारियों व सरकार संस्थानों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये तत्काल क़दम उठाने की अपील की है.

मीडिया ख़बरों के अनुसार, प्रदर्शनकारियों ने, गत एक सप्ताह के दौरान, शनिवार को दूसरी बार, राजधानी बग़दाद में, उच्च  सुरक्षा वाले ग्रीन ज़ोन में सुरक्षा घेरे को तोड़ते हुए, संसद पर धावा बोल दिया, जिसमें 120 से ज़्यादा लोग घायल हो गए.

तात्कालिक मुद्दा

इराक़ में पिछले नौ महीनों से राजनैतिक गतिरोध जारी है जिसके कारण एक नई सरकार का गठन नहीं हो सका है. 

गत सप्ताह बुधवार को सैकड़ों लोग पहली बार संसद में घुस गए थे.

मीडिया ख़बरों में कहा गया है कि ये अशान्ति का ये ताज़ा दौर, देश के एक धार्मिक नेता मुक़्तदा अल सद्र के समर्थकों ने शुरू किया है जिनके धड़े ने अक्टूबर 2021 में हुए चुनावों में बहुमत हासिल किया था. 

ये धड़ा, प्रधानमंत्री पद क लिये एक ईरान समर्थक, प्रतिद्वन्द्वी उम्मीदवार के नामांकन का विरोध कर रहा है.

बुनियादी मानवाधिकारों का सम्मान करें

यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने रेखांकित किया है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और शान्तिपूर्ण सभाएँ करना, ऐसे बुनियादी अधिकार हैं जिनका सम्मान हर समय करना होगा.

उप प्रवक्ता फ़रहान हक़ द्वार जारी वक्तव्य में कहा गया है, “यूएन प्रमुख तमाम पक्षों और हस्तियों से, अपने मतभेदों से ऊपर उठने और शान्तिपूर्ण व समावेशी सम्वाद के ज़रिये, एक ऐसी प्रभावशाली सरकार गठित करने का आग्रह करते हैं जो, सुधारों की लम्बे समय से चल आ रही मांगों को, बिना और ज़्यादा देरी के पूरा कर सकें.”

Share this story